Atal Bhujal Yojana 2022 | विशेषताएं, उद्देश्य व कार्यान्वयन प्रक्रिया

Atal Bhujal Yojana Online Registration | अटल भूजल योजना एप्लीकेशन फॉर्म | Atal Bhujal Yojana Application Status | अटल भूजल योजना कार्यान्वयन प्रक्रिया

भूजल के स्तर को बढ़ाने के लिए सरकार द्वारा निरंतर प्रयास किया जाता है। जिसके लिए सरकार विभिन्न प्रकार की योजना संचालित करती है। इन योजनाओं के माध्यम से जागरूकता अभियान संचालित किए जाते हैं। इसके अलावा विभिन्न प्रकार के प्रयास किए जाते हैं जिससे कि भूजल के स्तर को बढ़ाया जा सके। हाल ही में सरकार द्वारा अटल भूजल योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना के माध्यम से सरकार भूजल प्रबंधन के लिए सामुदायिक भागीदारी पर बल देगी।

इस लेख के माध्यम से आपको atal bhujal Yojana से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान की जाएगी। आप इस लेख को पढ़कर इस योजना का उद्देश्य, लाभ, विशेषताएं, पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज, आवेदन करने की प्रक्रिया आदि से संबंधित जानकारी प्राप्त कर सकेंगे। यदि आप अटल भूजल योजना 2022 का लाभ प्राप्त करने में रुचि रखते हैं तो आपसे निवेदन है कि आप हमारे इस लेख को अंत तक पढ़े।

Atal Bhujal Yojana 2022

केंद्र सरकार द्वारा अटल भूजल योजना का आरंभ किया गया है। इस योजना के माध्यम से देश के 7 चिन्हित जल संकट वाले क्षेत्रों में स्थाई भूजल प्रबंधन के लिए सामुदायिक भागीदारी और मांग हस्तक्षेप पर जोर दिया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत जल जीवन मिशन के लिए बेहतर सोत्र स्थिरता, किसानों की आय को दोगुना करने के लक्ष्य में सकारात्मक योगदान और जल उपयोग की सुविधा के लिए समुदाय के व्यवहार में बदलाव लाने की परिकल्पना की गई है। अटल भूजल योजना के संचालन के लिए सरकार द्वारा 6000 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। जिसमें से 3000 करोड़ रुपए विश्व बैंक से ऋण के रूप में प्राप्त किए जाएंगे एवं 3000 करोड़ रुपए का भारत सरकार योगदान देगी।

राज्य को सहायता अनुदान के रूप में इस योजना के अंतर्गत राशि प्रदान की जाएगी। अटल भूजल योजना का संचालन हरियाणा, गुजरात, कर्नाटका, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, राजस्थान और उत्तर प्रदेश की 8353 जल संकट ग्रस्त ग्राम पंचायतों में किया जाएगा।

अटल भूजल योजना का उद्देश्य

इस योजना का मुख्य उद्देश्य चुनिंदा राज्यों के जल संकट ग्रस्त क्षेत्रों में भूजल संसाधनों के प्रबंधन में सुधार करना है। Atal Bhujal Yojana के माध्यम से भूजल के स्तर में सुधार आ सकेगा जिससे कि पानी की समस्या का निराकरण होगा। इस उद्देश्य को विभिन्न चल रही या नई केंद्रीय और राज्य योजनाओं के अभिसरण के माध्यम से समुदाय के नेतृत्व में उचित निवेश/प्रबंधन कार्य को लागू कर के प्राप्त किया जाएगा।

इस योजना के माध्यम से देश के प्रत्येक नागरिक तक जल उपलब्ध हो सकेगा। जिससे कि देश के नागरिकों के जीवन स्तर में सुधार आएगा। इसके अलावा यह योजना देश के नागरिकों को सशक्त एवं आत्मनिर्भर बनाने में भी कारगर साबित होगी।

Key Highlights Of Atal Bhujal Yojana

योजना का नाम अटल भूजल योजना
किसने आरंभ की भारत सरकार
लाभार्थी भारत के नागरिक
उद्देश्य भूजल के स्तर को बढ़ाना
आधिकारिक वेबसाइट यहां क्लिक करें
साल 2022

क्षेत्र का विवरण एवं संभावित वित्तीय आवंटन

राज्य जिला ब्लॉक ग्राम पंचायत
गुजरात 6 24 1816
हरियाणा 13 36 1895
कर्नाटका 14 41 1199
मध्य प्रदेश 5 9 678
महाराष्ट्र 13 35 1339
राजस्थान 17 22 876
उत्तर प्रदेश 10 26 550
कुल 78 193 8353

अटल भूजल योजना स्कीम कॉम्पोनेंट

  • संस्थागत सिद्धि करण और क्षमता निर्माण घटक: – इस घटक के अंतर्गत सभी भाग लेने वाले राज्यों को थाई भूजल प्रबंधन करने में सक्षम बनाया जाएगा जिसके लिए मजबूत डेटाबेस, वैज्ञानिक दृष्टिकोण और सामुदायिक भागीदारी का उपयोग किया जाएगा। इस कंपोनेंट के लिए सरकार द्वारा 1400 करोड़ रुपए की राशि खर्च की जाएगी।
  • प्रोत्साहन घटक: इस घटक के अंतर्गत भूजल के स्तर को बढ़ाने के लिए केंद्र और राज्य सरकार की विभिन्न चल रही योजनाओं के बीच समुदायिक भागीदारी, मांग प्रबंधन और अभिसरण पर जोर दिया जाएगा। इस घटक के संचालन के लिए सरकार द्वारा ₹4600 की राशि खर्च की जाएगी।

अटल भूजल योजना के अंतर्गत संवितरण से जुड़े संकेतक

  • भूजल डाटा/सूचना और रिपोर्ट का सार्वजनिक प्रकटीकरण – प्रोत्साहन निधि का 10%
  • समुदाय के नेतृत्व वाली जन सुरक्षा योजनाओं की तैयारी- प्रोत्साहन विधि का 15%
  • चालू योजनाओं के अभी सारण के माध्यम से हस्तक्षेप ओ का सार्वजनिक वित्त पोषण- प्रोत्साहन मिलेगा 20%
  • कुशल जल उपयोग के लिए प्रथाओं को अपनाना- प्रोत्साहन निधि का 40%
  • भूजल स्तर में गिरावट की दर में सुधार- प्रोत्साहन निधि का 15%

Atal Bhujal Yojana के लाभ तथा विशेषताएं

  • केंद्र सरकार द्वारा अटल भूजल योजना का आरंभ किया गया है।
  • इस योजना के माध्यम से देश के 7 चिन्हित जल संकट वाले क्षेत्रों में स्थाई भूजल प्रबंधन के लिए सामुदायिक भागीदारी और मांग हस्तक्षेप पर जोर दिया जाएगा।
  • इस योजना के अंतर्गत जल जीवन मिशन के लिए बेहतर सोत्र स्थिरता, किसानों की आय को दोगुना करने के लक्ष्य में सकारात्मक योगदान और जल उपयोग की सुविधा के लिए समुदाय के व्यवहार में बदलाव लाने की परिकल्पना की गई है।
  • अटल भूजल योजना के संचालन के लिए सरकार द्वारा 6000 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे।
  • जिसमें से 3000 करोड़ रुपए विश्व बैंक से ऋण के रूप में प्राप्त किए जाएंगे एवं 3000 करोड़ रुपए का भारत सरकार योगदान देगी।
  • राज्य को सहायता अनुदान के रूप में इस योजना के अंतर्गत राशि प्रदान की जाएगी।
  • अटल भूजल योजना का संचालन हरियाणा, गुजरात, कर्नाटका, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, राजस्थान और उत्तर प्रदेश की 8353 जल संकट ग्रस्त ग्राम पंचायतों में किया जाएगा।

अटल भूजल योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया

अटल भूजल योजना
  • अब आपके सामने होम पर खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको आवेदन करें के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज खोलकर आएगा।
  • इस पेज पर आपको सभी महत्वपूर्ण जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • अब आपको सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अपलोड करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको सबमिट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप अटल भूजल योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकेंगे।

मोबाइल ऐप डाउनलोड करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको अटल भूजल योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पर खुल कर आएगा।
  • इसके पश्चात आपको अटल जल एप एपीके डाउनलोड के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपकी डिवाइस में एक apk डाउनलोड होगा।
  • डाउनलोड पूर्ण होने के पश्चात आपको इसे इंस्टॉल करना होगा।
  • इस प्रकार मोबाइल ऐप आपके डिवाइस में डाउनलोड हो जाएगा।

एमआईएस लॉगिन करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको अटल भूजल योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पर खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको एमआईएस लॉगइन के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
अटल भूजल योजना
  • अब आपकी स्क्रीन पर लॉगइनफॉर्म खुलकर आएगा।
  • आपको इस फॉर्म में अपना ईमेल आईडी, पासवर्ड तथा कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको लॉगिन के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप एमआईएस लॉगिन कर सकेंगे।

वाटर लेवल, वॉटर क्वालिटी या हाइड्रोलॉजिकल रिपोर्ट देखने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको अटल भूजल योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पर खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको डाटा डिस्क्लोजर के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपकी स्क्रीन पर निम्नलिखित ऑप्शन खुल कर आएंगे।
  • आपको अपनी आवश्यकतानुसार विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको अपने राज्य का चयन करना होगा।
  • अब आपको लिस्ट को डाउनलोड करना होगा।
  • संबंधित जानकारी आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होगी।

डैशबोर्ड देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको अटल भूजल योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पर खुल कर आएगा।
  • इसके पश्चात आपको डैशबोर्ड के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
Atal Bhujal Yojana
  • अब आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको राज्य तथा फाइनैंशल ईयर का चयन करना होगा।
  • संबंधित जानकारी आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होगी।

ग्रीवेंस दर्ज करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको अटल भूजल योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पर खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको ग्रीवेंस के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको न्यू ग्रीवेंस रजिस्ट्रेशन के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
अटल भूजल योजना
  • अब आपकी स्क्रीन पर ग्रीवेंस फॉर्म खुलकर आएगा।
  • इस फोन में आपको सब्जेक्ट, ग्रीवेंस टाइप, ग्रीवेंस एड्रेस टू, कंप्लेनेंट नेम, ईमेल, मोबाइल नंबर, फोन नंबर, एड्रेस, डिस्क्रिप्शन आदि दर्ज करना होगा।
  • अब आपको सबमिट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप ग्रीवेंस दर्ज कर सकेंगे।

ग्रीवेंस स्टेटस चेक करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको अटल भूजल योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पर खुल कर आएगा।
  • इसके पश्चात आपको ग्रीवेंस के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको ग्रीवेंस स्टेटस के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
Atal Bhujal Yojana
  • अब आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको ग्रीवेंस आईडी दर्ज करनी होगी।
  • अब आपको गेट स्टेटस के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप ग्रीवेंस स्टेटस चेक कर सकेंगे।

फीडबैक देने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको अटल भूजल योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पर खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको ट्रेनिंग एंड वर्कशॉप के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको फीडबैक के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
फीडबैक
  • इसके बाद आपकी स्क्रीन पर फीडबैक फॉर्म खुलकर आएगा।
  • इस फॉर्म में आपको नाम, एड्रेस, रजिस्ट्रेशन नंबर, टाइटल, वेन्यू, स्टेट आदि दर्ज करना होगा।
  • अब आपको सबमिट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप फीडबैक दे सकेंगे।

संपर्क विवरण देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको अटल भूजल योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पर खुल कर आएगा।
  • इसके पश्चात आपको कांटेक्ट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपकी स्क्रीन पर निम्नलिखित ऑप्शन खुल कर आएंगे।
  • आपको अपनी आवश्यकता अनुसार विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • संपर्क विवरण आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होगा।

Leave a Comment