खेत तालाब योजना उत्तर प्रदेश 2022: ऑनलाइन आवेदन Khet Talab Yojana Apply

Khet Talab Yojana Online Registration 2022 | यूपी खेत तालाब योजना क्या है | उत्तर प्रदेश खेत तालाब योजना ऑनलाइन आवेदन | UP Khet Talab Yojana Application Form | खेती का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा सिंचाई है जिसके लिए किसानों को जल की आवश्यकता होती है। हमारे देश में अधिकतर किसान बिजली से चलने वाले ट्यूबवेल या अन्य स्रोतों से जल की प्राप्ति करते हैं। जिसके कारण दिन-प्रतिदिन भूजल का स्तर नीचा होता जा रहा है और साथ ही किसानों को ट्यूबवेल से सिंचाई करने से उनकी फसल लागत में भी वृद्धि हो रही है। इन सभी बातों को मद्देनजर रखते हुए उत्तर प्रदेश सरकार ने अपने राज्य में खेत तालाब योजना को नियोजित किया है। इस योजना के तहत राज्य के किसानों को उनके खेत के एक भाग को तालाब में परिवर्तित करने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगा। इन तालाबों में बारिश की पानी को एकत्रित किया जा सकेगा। जिसका उपयोग बाद में किसान खेती की सिंचाई करने में कर सकेंगे। तो आइए और हमारे साथ जानिए  क्या है Khet Talab Yojana Uttar Pradesh 2022?

Khet Talab Yojana Apply

Khet Talab Yojana Uttar Pradesh

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा सन् 2013 में Khet Talab Yojana को शुरू किया गया था। जिसे सरकार ने बाद में किसी कारणवश बीच में ही रोक दिया था। लेकिन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने इस योजना के महत्व को देखते हुए इसे दोबारा से राज्य में लागू कर दिया है। उत्तर प्रदेश खेत तालाब योजना  के माध्यम से किसानों को उनके खेत के एक हिस्से को तालाब में बदलने पर अनुदान प्रदान किया जाता है। यह अनुदान आने वाले खर्चे का 50% होता है। यह योजना एक तरह से जल संरक्षण पर आधारित है जो तालाबों में बारिश के पानी को संरक्षित करेंगी। ताकि किसान इस संरक्षित पानी का उपयोग अपने खेत की सिंचाई करने में कर सके। इसके अलावा इन तालाबों में किसान मछली पालन भी कर सकेंगे जिससे उन्हें आय का एक ओर स्रोत प्राप्त होगा। यूपी खेत तालाब योजना 2022 राज्य के भूजल स्तर को नियंत्रित करेगी और ट्यूबवेल के कारण किसानों की बढ़ती हुई खेती लागत को भी कम करेंगी। UP Kisan Karj Rahat List ऑनलाइन देखने के लिए यहां क्लिक करें

खेत तालाब योजना उत्तर प्रदेश हाईलाइट

योजना का नाम उत्तर प्रदेश खेत तालाब योजना
शुरू की गई उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा
लाभार्थी उत्तर प्रदेश के किसान
उद्देश्य सिंचाई हेतु तालाब निर्माण पर अनुदान प्रदान करना
अनुदान की राशि निर्माण खर्च का 50%
साल 2022
राज्य उत्तर प्रदेश
आवेदन प्रक्रिया ऑनलाइन
अधिकारिक वेबसाइट https://upagripardarshi.gov.in/Index-hi.aspx

Khet Talab Yojana 2022 के तहत अनुदान राशि

खेत तालाब योजना उत्तर प्रदेश 2022 के तहत प्रदेश सरकार द्वारा किसानों को खेत में तालाब का निर्माण करने पर आने वाले खर्चे का 50% अनुदान दिया जाता है। छोटे तालाब के निर्माण करने पर लगभग ₹105000 का खर्चा आता है इस खर्चे का सरकार द्वारा 50% यानी 52500 रुपए सरकार द्वारा वहन किए जाते हैं और बड़े तालाब के निर्माण पर लगभग 228400 रुपए का खर्च आता है। जिसका 50% यानी अधिकतम 114200 रुपए का खर्च प्रदेश सरकार द्वारा खुद वहन किया जाता है इसके अलावा प्लास्टिक लाइनिंग के काम में आने वाले खर्च पर ₹75000 की अतिरिक्त राशि ओर प्रदान की जाती है।

अब तक राज्य में UP Khet Talab Yojana के माध्यम से 2000 से भी अधिक तालाबों का निर्माण किया जा चुका है। बुंदेलखंड के चित्रकूट, हमीरपुर, जालौन, झांसी, ललितपुर एवं महोबा में यह तालाब बनाए जा चुके हैं। अब राज्य में 3300 नए तालाब ओर बनाने का कार्य किया जा रहा है। यह योजना राज्य के किसानों के सामने पानी की आने वाली समस्याओं को दूर करेगी और उन्हें सिंचाई हेतु पर्याप्त पानी उपलब्ध करवाएगी।

यूपी गन्ना पर्ची कैलेंडर

तालिकानुसार अनुदान राशि विवरण

तालाब का आकार कुल निर्माण खर्च सरकार द्वारा अनुदान राशि (50%) अतिरिक्त राशि प्लास्टिक लाइनिंग हेतु
छोटा तालाब ₹1050000 ₹52500 ₹75000
बड़ा तालाब ₹228400 ₹114200 ₹75000

UP khet Talab Yojana 2022 के तहत तालाब का आकार

राज्य सरकार द्वारा इस योजना के तहत निम्नलिखित आकार के तालाबों पर 50% का अनुदान प्रदान किया जाएगा

  • छोटे तालाब का आकार- 22x20x3 मीटर 
  • बड़े तालाब का आकार- 35x30x3 मीटर

खेत तालाब योजना उत्तर प्रदेश के फेज

UP Khet Talab Yojana को सरकार द्वारा दो फेज में विभाजित किया गया था जो निम्नलिखित इस प्रकार है।

पहला फेज उत्तर प्रदेश के बुंदेलखंड जिले में इस योजना को सबसे पहले शुरू किया गया था। जहां पर लगभग 2000 तालाबों का निर्माण किया गया था। इन तालाबों के निर्माण में 12.20 करोड़ रुपए का खर्च किया गया था।

दूसरा फेज  यूपी खेत तलाब योजना के दूसरा फेज में बुंदेलखंड क्षेत्र के 44 जनपदों एवं 167 अतिदोहित व क्रिटिकल श्रेणी का चयन किया गया हैं। जिनमें 3084 तालाबों का निर्माण कार्य संपूर्ण हो चुका है। जिन पर सरकार द्वारा 27.88 करोड़ रुपए का खर्च किया गया है।

Khet Talab Yojana जल उपलब्धता सुनिश्चित कराने के साथसाथ किसानों की आय में भी करेगी वृद्धि

प्रदेश में इस योजना के माध्यम से संरक्षण विभाग द्वारा किसानों को समृद्ध एवं सशक्त बनाने का फैसला लिया गया है। खेत तालाब योजना 2022 के माध्यम से किसान निर्मित हुए तालाबों के माध्यम से खेत की सिंचाई आसानी से करने के साथ-साथ मत्स्य पालन एवं सिंघाड़े की खेती भी कर सकते हैं। अगर हम कहे, तो यह योजना किसानों को सिंचाई में पानी उपलब्ध करवाने के साथ-साथ मत्स्य पालन एवं सिंघाड़ा की खेती के माध्यम से उनकी आय में भी वृद्धि करेगी। उत्तर प्रदेश सरकार का इस योजना को दोबारा शुरू करने का निर्णय बहुत ही सराहनीय है क्योंकि इसके माध्यम से फिर से हजारों किसानों को लाभ की प्राप्ति होगी। जिससे प्रदेश का कृषि क्षेत्र विकसित होगा और साथ ही राज्य विकास की ओर बढ़ेगा।

UP khet Talab Yojana

UP khet Talab Yojana 2022 का उद्देश्य

इस योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य उत्तर प्रदेश के किसानों को उनके खेत में तालाब निर्माण करवाकर सिंचाई हेतु पर्याप्त पानी उपलब्ध करवाना है। क्योंकि उत्तर प्रदेश में प्रतिवर्ष सबसे अधिक धान की फसल बोई जाती हैं जिसमें बहुत अधिक मात्रा में पानी का उपयोग होता है। लेकिन वर्तमान समय में गिरते हुए भूजल स्तर के कारण किसानों को पर्याप्त मात्रा में पानी प्राप्त करने में काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। इसी समस्या को देखते हुए उत्तर प्रदेश सरकार ने अपने राज्य में यूपी खेत तालाब योजना को शुरू किया गया है। इस योजना के माध्यम से किसानों को खेती की सिंचाई करने हेतु तालाब निर्माण करवाने पर 50% का अनुदान प्रदान किया जाएगा। अब राज्य के किसान Khet Talab Yojana Uttar Pradesh 2022 के द्वारा निर्मित हुए तालाबों में बारिश के पानी को इकट्ठा कर सकेंगे जिसका इस्तेमाल वह अपनी खेती कार्यों में कर पाएंगे।

यूपी निःशुल्क बोरिंग योजना

खेत तालाब योजना के लाभ एवं विशेषताएं

  • उत्तर प्रदेश सरकार अपने राज्य के किसानों के हित में Khet Talab Yojana को नियोजित किया गया है।
  • इस योजना के तहत किसानों को उनके खेत में कृषि कार्यों के लिए तालाब निर्माण करवाने पर आने वाले खर्चे का 50% आर्थिक सहायता के रूप में प्रदान किया जाता है।
  • सरकार का इस योजना को शुरू करने का मुख्य लक्ष्य जल संरक्षण को बढ़ावा देना है।
  • इस योजना के माध्यम से निर्मित हुए तालाबों में बारिश के पानी को इकट्ठा किया जा सकेगा। किसान इकट्ठे हुए पानी का इस्तेमाल अपनी खेती कार्यों में कर सकेंगे।
  • उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा इस योजना को सन् 2013 में शुरू किया गया था। जिसे किसी कारणवश बीच में रोक दिया गया था।
  • मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने सन् 2016 में इस योजना को दोबारा से 5 वर्षों के लिए राज्य में लागू कर दिया था। इन 5 वर्षों के लिए ₹500000 का बजट भी निर्धारित किया गया था।
  • Uttar Pradesh Khet Talab Yojana 2022 के तहत इच्छुक किसानों को आवेदन करने के लिए सरकारी दफ्तरों के चक्कर काटने नहीं पड़ेंगे। क्योंकि इसके तहत आवेदन ऑनलाइन प्रक्रिया से किया जाता है।
  • यह योजना राज्य में किसानों के सामने आने वाली पानी की कमी की समस्या को दूर करेगी और साथ ही उनकी आय में वृद्धि करेगी।
  • आज के दौर में सभी किसानों द्वारा अपने खेत में सिंचाई के लिए पानी ट्यूबवेल के माध्यम से प्राप्त किया जाता है। जिसके कारण जमीन के अंदर पानी का स्तर नीचा होता जा रहा है। किसी समस्या का समाधान करने के लिए खेत तालाब योजना को शुरू किया गया है।

उत्तर प्रदेश खेत तालाब योजना के तहत पात्रता

  • आवेदक एक रजिस्टर्ड किसान होना चाहिए।
  • किसान को उत्तर प्रदेश का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है।
  • अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अल्पसंख्यक एवं लघु सीमांत किसान ही इस योजना का लाभ प्राप्त करने के पात्र हैं।
  • किसान किसी अन्य तालाब योजना का लाभ ना ले रहा हो।

आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • जाति प्रमाण पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • पहचान पत्र
  • जमीन के कागजात
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  •  बैंक खाता विवरण

खेत तालाब योजना उत्तर प्रदेश 2022 के तहत आवेदन कैसे करें?

  • सबसे पहले आवेदक को कृषि विभाग उत्तर प्रदेश सरकार की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुलकर आ जाएगा।
खेत तालाब योजना उत्तर प्रदेश 2022
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको योजनांये के सेक्शन के तहत मुद्रा एवं जल संरक्षण की योजनाये के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • अब आपको राज्य प्रायोजित के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुलकर आ जाएगा।
Khet Talab Yojana
  • इस पेज पर आपको Khet Talab Yojana का चयन करना है।
  • जैसे ही आप इस विकल्प पर क्लिक करेंगे आपके सामने एक ओर नया पेज खुलकर आ जाएगा।
  • इस पेज पर आपको ऑनलाइन आवेदन के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • अब आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म खुलकर आ जाएगा।
  • इस फॉर्म में आपको पूछी गई सभी जानकारियों को दर्ज करके सबमिट के बटन पर क्लिक कर देना है।
  • इस प्रकार आप उत्तर प्रदेश के तालाब योजना के तहत आवेदन कर सकते हैं।

कृषि अधिकारी लॉगइन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आवेदक को कृषि विभाग उत्तर प्रदेश सरकार की Official Website पर जाना है।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुलकर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको कृषि अधिकारि लॉगिन के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुलकर आ जाएगा।
Khet Talab Yojana  कृषि अधिकारी लॉगइन करने की प्रक्रिया
  • इस पेज पर आपको पूछी गई सभी जानकारी जैसे- यूजर नेम, पासवर्ड एवं कैप्चा कोड दर्ज कर देना है।
  • इसके बाद आपको लॉगिन के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • इस प्रकार से आप कृषि अधिकारी लॉगिन कर सकते हैं।

खेत तालाब हेतु बिल अपलोड कैसे करें?

  • सबसे पहले आपको पारदर्शी किसान सेवा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुलकर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको महत्वपूर्ण सूचनाओं के सेक्शन में जाना है।
  • अब आपको खेत तलाब हेतु बिल अपलोड करें के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुलकर आ जाएगा।
  • इस पेज पर आपको पूछी गई सभी जानकारी जैसे- किसान पंजीकरण संख्या एवं टोकन संख्या दर्ज कर देनी है।
  • अब आपको आगे बढ़े के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • जैसे ही आप इस विकल्प पर क्लिक करेंगे आपके सामने एक नया पेज खुलकर आ जाएगा।
  • इस पेज पर आप बिल अपलोड कर सकते हैं।

यंत्र हेतु टोकन जनरेट कैसे करें?

  • सबसे पहले आपको पारदर्शी किसान सेवा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुलकर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको महत्वपूर्ण सूचनाओं के सेक्शन के तहत यंत्र हेतु टोकन जनरेट करे के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुलकर आ जाएगा।
  • इस पेज पर आपको पूछी गई सभी जानकारियों को दर्ज करके टोकन जनरेट करें के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • इस प्रकार से आप यंत्र हेतु टोकन जनरेट कर सकते हैं।

अब तक जारी किए गए टोकन का विवरण कैसे देखें?

  • सबसे पहले आपको पारदर्शी किसान सेवा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुलकर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको महत्वपूर्ण सूचनाओं के सेक्शन के  तहत अबतक जारी किए गए टोकन का विवरण के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुलकर आ जाएगा।
  • इस पेज पर आपको पूछी गई सभी जानकारियां जैसे- वित्तीय वर्ष, योजना, जनपद एवं यंत्र आदि दर्ज कर देना है।
  • इसके बाद आपको देखें के बटन पर क्लिक करना है।
  • जैसे ही आप इस विकल्प पर क्लिक करेंगे अब आपके सामने अब तक जारी किए गए टोकन का विवरण खुलकर आ जाएगा।

प्रदेशवार योजनावार टोकन रिपोर्ट देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको पारदर्शी किसान सेवा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुलकर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको महत्वपूर्ण सूचनाओं के सेक्शन में जाना है।
  • अब आपको प्रदेशवार योजनावार टोकन रिपोर्टके विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुलकर आ जाएगा जिस पर आपको संबंधित रिपोर्ट प्राप्त हो जाएगी।
  • यदि आप इस रिपोर्ट को प्रिंट करना चाहते हैं तो रिपोर्ट प्रिंट करें के विकल्प पर क्लिक करके प्रिंट कर सकते हैं।

योजनावार यंत्रवार टोकन रिपोर्ट देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको पारदर्शी किसान सेवा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुलकर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको महत्वपूर्ण सूचनाओं के सेक्शन में जाना है।
  • अब आपको योजनावार यंत्रवार टोकन रिपोर्टके विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • इसके बाद आपके सामने एक पेज खुलकर आ जाएगा जिस पर आपको वित्तीय वर्ष दर्ज करना है।
  • अब आपके सामने योजनावार यंत्रवार टोकन रिपोर्ट खुलकर आ जाएगी।
  • इस रिपोर्ट को आप प्रिंट करें के विकल्प पर क्लिक करके प्रिंट भी कर सकते हैं

निर्माता कंपनियां एंपैनलमेंट की सूची कैसे देखें?

  • सबसे पहले आपको पारदर्शी किसान सेवा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुलकर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको  महत्वपूर्ण सूचनाओं के सेक्शन के तहत निर्माता कंपनियां एंपैनलमेंट की सूची के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • अब आपके सामने एक पीडीएफ फाइल खुलकर आ जाएगी।
  • इस फाइल में आप संबंधित जानकारी देख सकते हैं।

अपनी शिकायत दर्ज करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आवेदक को कृषि विभाग उत्तर प्रदेश सरकार की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुलकर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको संपर्क करें के टैब के तहत शिकायत दर्ज करें के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • अब आपके सामने ग्रीवेंस फॉर्म खुलकर आ जाएगा।
अपनी शिकायत दर्ज करने की प्रक्रिया
  • इस फॉर्म में आपको पूछी गई सभी जानकारियां जैसे- नाम, पता, जनपद, विषय, शिकायत, फोन नंबर, ईमेल आईडी एवं कैप्चा कोड को दर्ज कर देना है।
  • इसके बाद आपको सुरक्षित करें के विकल्प पर क्लिक कर देना है।
  • इस प्रकार से आप अपनी शिकायत दर्ज कर सकते हैं।

शिकायत की स्थिति देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आवेदक को कृषि विभाग उत्तर प्रदेश सरकार की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • इसके बाद आपके सामने वेबसाइट का होमपेज खुलकर आ जाएगा।
  • वेबसाइट के होमपेज पर आपको संपर्क करें के सेक्शन में जाना है।
  • अब आपको शिकायत की स्थितिके विकल्प पर क्लिक करना है।
  • जैसे ही आप इस विकल्प पर क्लिक करेंगे आपके सामने एक नया पेज खुलकर आ जाएगा।
  • इस पेज पर आपको शिकायत संख्या दर्ज करनी है।
शिकायत की स्थिति देखने की प्रक्रिया
  • इसके बाद आपको खोजें के बटन पर क्लिक कर देना है।
  • अब संबंधित जानकारी आपको अपनी कंप्यूटर स्क्रीन पर प्राप्त हो जाएगी।

Helpline Number

  • राज्य कृषि निदेशालय, उत्तर प्रदेश
  • कृषि भवन मदन मोहन मालवीय मार्ग
  • लखनऊ- 226001

Leave a Comment