Haryana Mukhyamantri Bagwani Bima Yojana: ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन व कार्यान्वयन प्रक्रिया

Haryana Mukhyamantri Bagwani Bima Yojana Apply | हरियाणा मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन | मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना कार्यान्वयन प्रक्रिया

सरकार द्वारा सन 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए केंद्र एवं राज्य सरकारों द्वारा विभिन्न प्रकार की योजनाओं का संचालन किया जाता है। जिससे कि किसानों की आय में वृद्धि की जा सके एवं किसानों को होने वाले नुकसान को कम किया जा सके। आज हम आपको हरियाणा सरकार द्वारा आरंभ की गई ऐसी ही एक योजना से संबंधित जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं। जिसका नाम हरियाणा मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना है। इस योजना के माध्यम से बागवानी फसल पर बीमा प्रदान किया जाएगा। इस लेख को पढ़कर आपको इस योजना से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त होगी। जैसे कि इसका उद्देश्य, विशेषताएं, पात्रता, महत्वपूर्ण दस्तावेज, आवेदन करने की प्रक्रिया, ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन आदि।

Haryana Mukhyamantri Bagwani Bima Yojana 2022

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर जी के द्वारा 22 सितंबर 2021 को हुई मंत्रिमंडल की बैठक में हरियाणा मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना आरंभ करने का निर्णय लिया गया है। इस योजना के माध्यम से बागवानी किसानों की फसल को प्राकृतिक आपदाओं जैसे कि फसल में बीमारी लगने, असम्न्य वर्षा, तूफान, सूखा पड़ना, आदि के कारण होने वाले नुकसान पर बीमा कवर प्रदान किया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत कुल 21 सब्जियां, फल और मसालों की फसल कवर की जाएंगी। किसानों को इस योजना का लाभ उठाने के लिए सब्जियों और मसालों की फसल पर ₹750 एवं फल की फसल पर ₹1000 की प्रीमियम का भुगतान करना होगा। जिसके एवज में उन्हें ₹30000 एवं ₹40000 का बीमा आश्वासन प्रदान किया जाएगा। बीमा दावों का निपटान करने के लिए सरकार द्वारा एक सर्वे किया जाएगा। जिसके अंतर्गत फसल नुकसान की चार श्रेणियां होंगी। जो कि 25%, 50%, 75% और 100% है।

हरियाणा मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना

21 प्रकार की फल, सब्जी एवं मसालों को किया जाएगा योजना के अंतर्गत कवर

बागवानी फसल करने वाले किसानों के लिए हरियाणा सरकार द्वारा मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना का आरंभ करने का निर्णय 29 सितंबर 2021 को हुई हरियाणा मंत्रिमंडल की बैठक में लिया गया है। जिसके अध्यक्ष मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर थे। इस योजना के कार्यान्वयन को भी सरकार द्वारा मंजूरी प्रदान कर दी गई है। इस योजना के माध्यम से प्रतिकूल मौसम एवं प्राकृतिक आपदा के कारण फसल को होने वाले नुकसान पर बागवानी फसल उगाने वाले किसानों को मुआवजा प्रदान किया जाएगा। किसानों को पहले फसल खराब होने के विभिन्न कारणों की वजह से जैसे की फसलों में रोग, बेमौसम बारिश, तूफान, सूखा आदि की वजह से भारी नुकसान उठाना पड़ता था। अब इस नुकसान की भरपाई सरकार द्वारा इस योजना के माध्यम से की जाएगी।

इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा 21 प्रकार की सब्जी, फल और मसाले फसलों को कवर किया गया है। इस योजना के अंतर्गत किसानों को सब्जियों और मसालों की फसल के लिए ₹750 और फलों की फसल के लिए ₹1000 के प्रीमियम का भुगतान करना होगा। जिसके पश्चात फसल को नुकसान होने पर उनको ₹30000 और ₹40000 का भुगतान किया जाएगा।

हरियाणा मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना का बजट एवं फसलें

इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना किसानों के लिए वैकल्पिक होगा एवं यह योजना पूरे राज्य में लागू की जाएगी। किसानों द्वारा इस योजना का लाभ उठाने के लिए मेरा फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर अपनी फसल एवं क्षेत्र का ब्यौरा प्रदान करते हुए पंजीकरण करना होगा। इस योजना के संचालन के लिए सरकार द्वारा 10 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित किया गया है। राज्य एवं जिला स्तरीय समितियों द्वारा राज्य एवं जिला स्तर पर निगरानी, संरक्षण और विवादों का समाधान भी किया जाएगा। यह योजना किसानों को जोखिम वाली बागवानी फसलों की खेती करने के लिए प्रोत्साहित करेंगी। इस योजना के अंतर्गत निम्नलिखित फसलों को शामिल किया गया है।

  • टमाटर
  • प्याज
  • आलू
  • फूलगोभी
  • मटर
  • गाजर
  • भिंडी
  • लौकी
  • करेला
  • बैंगन
  • हरी मिर्च
  • शिमला मिर्च
  • पत्ता गोभी
  • मूली
  • हल्दी
  • लहसुन
  • आम
  • किन्नू
  • बेर
  • अमरूद

Key Highlights Of Haryana Mukhyamantri Bagwani Bima Yojana 2022

योजना का नाम हरियाणा मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना
किसने आरंभ की हरियाणा सरकार
लाभार्थी हरियाणा के किसान
उद्देश्य किसानों को बागवानी फसल की खेती करने के लिए प्रोत्साहित करना
आधिकारिक वेबसाइट यहां क्लिक करें
साल 2022
प्रीमियम की राशि सब्जी एवं मसालों के लिए ₹750 तथा फलों के लिए ₹1000
बीमा कवर ₹30000 एवं ₹40000
राज्य हरियाणा
आवेदन का प्रकार ऑनलाइन/ऑफलाइन

हरियाणा मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना का उद्देश्य

इस योजना का मुख्य उद्देश्य प्रदेश के किसानों को बागवानी फसल की खेती करने के लिए प्रोत्साहित करना है। प्राकृतिक आपदाओं के कारण होने वाले नुकसान पर इस योजना के माध्यम से बीमा कवर प्रदान किया जाएगा। हरियाणा मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना किसानों की आय में वृद्धि करने में भी कारगर साबित होगी। इसके अलावा इस योजना के माध्यम से किसानों की आय में भी सुधार आएगा। इस योजना के अंतर्गत प्राकृतिक आपदा के कारण होने वाले फसल के नुकसान की भरपाई सरकार द्वारा की जाएगी जिससे किसान निश्चित होकर खेती कर सकेगा।

मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना के पैरामीटर

  • बारिश
  • ठंड
  • बाढ़
  • आग लगना
  • हेलस्ट्रॉम आदि

हरियाणा मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना क्लेम का निपटारा

  • बीमा क्लेम से निपटान करने के लिए सर्वे का आयोजन किया जाएगा।
  • इस सर्वे की 4 श्रेणी होगी जो कि 25%, 50%, 75% और 100% फसल नुकसान का आकलन करेगी।
  • इस योजना को किसानों के लिए वैकल्पिक रखा गया है।
  • यह योजना पूरे राज्य में लागू की जाएगी।
  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए किसानों को मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर अपनी फसल एवं क्षेत्रफल का विवरण देकर पंजीकरण करना होगा।

Haryana Mukhyamantri Bagwani Bima Yojana के लाभ तथा विशेषताएं

  • हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर जी के द्वारा 22 सितंबर 2021 को हरियाणा मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना को आरंभ करने का निर्णय लिया गया।
  • यह निर्णय मंत्रिमंडल की बैठक के माध्यम से लिया गया।
  • इस योजना के माध्यम से बागवानी किसानों की फसलों को प्राकृतिक आपदाओं से होने वाले नुकसान पर बीमा कवर प्रदान किया जाएगा।
  • यह योजना कुल 21 सब्जियां, फल और मसालों को कवर करेंगी।
  • इस योजना के माध्यम से सब्जियों और मसालों की फसल पर ₹750 एवं फल की फसल पर ₹1000 के प्रीमियम का भुगतान करना होगा।
  • किसानों को ₹30000 एवं ₹40000 का बीमा आश्वासन इस योजना के माध्यम से प्रदान किया जाएगा।
  • बीमा दावे का निपटान करने के लिए सरकार द्वारा एक सर्वे किया जाएगा।
  • इस सर्वे के माध्यम से नुकसान की चार श्रेणियां होंगी जो कि 25% 50% 75% एवं 100% है।
  • इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना किसानों के लिए वैकल्पिक होगा।
  • यह योजना पूरे राज्य में लागू की जाएगी।
  • इस योजना का लाभ उठाने के लिए मेरा फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर अपनी फसल एवं क्षेत्र का ब्यौरा प्रदान करते हुए पंजीकरण करना होगा।
  • इस योजना के संचालन के लिए सरकार द्वारा 10 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित किया गया है।
  • राज्य एवं जिला स्तरीय समितियों द्वारा राज्य एवं जिला स्तर पर निगरानी, संरक्षण और विवादों का समाधान भी किया जाएगा।

हरियाणा मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना की पात्रता

  • आवेदक हरियाणा का स्थाई निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक किसान होना चाहिए।
  • किसान द्वारा बागवानी की फसल की होनी चाहिए।

महत्वपूर्ण दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • आय का प्रमाण
  • फसल का ब्योरा
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
  • मोबाइल नंबर
  • ईमेल आईडी

हरियाणा मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको हरियाणा मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको अप्लाई नाउ के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने आवेदन फॉर्म खुलकर आएगा।
  • आपको इस फॉर्म में पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी जैसे कि आपका नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी आदि दर्ज करना होगा।
  • अब आपको सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अपलोड करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको सबमिट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप हरियाणा मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना के अंतर्गत आवेदन

किसान पंजीकरण करने की प्रक्रिया (हरियाणा के किसान)

हरियाणा मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको किसान अनुभाग के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको किसान पंजीकरण के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
हरियाणा मुख्यमंत्री बागवानी बीमा योजना
  • इसके पश्चात आपको अपना मोबाइल नंबर तथा कैप्चा कोड दर्ज करके जारी रखे के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको पूछी गई जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • इसके पश्चात आपको सबमिट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप किसान पंजीकरण कर सकेंगे।

पंजीकरण प्रिंट करने की प्रक्रिया (हरियाणा के किसान)

  • सबसे पहले आपको मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इसके पश्चात आपको किसान अनुभाग के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको पंजीकरण प्रिंट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
पंजीकरण प्रिंट
  • इसके पश्चात आपके सामने नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको फसल ऋतु, नाम, मोबाइल संख्या कथा बैंक खाता संख्या दर्ज करनी होगी।
  • अब आपको प्रिंट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप पंजीकरण प्रिंट कर सकते हैं।

बैंक विवरण बदलने की प्रक्रिया (हरियाणा के किसान)

  • सर्वप्रथम आपको मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको किसान अनुभाग के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको बैंक विवरण बदले के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
बैंक विवरण बदलने
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको अपनी मोबाइल संख्या तथा कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।
  • अब आपको जारी रखे के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपकी स्क्रीन पर एक नया खुलकर आएगा ।
  • इस पेज पर आप अपना बैंक विवरण बदलकर सबमिट कर सकते हैं।

किसान पंजीकरण करने की प्रक्रिया (पड़ोसी राज्य के किसान जिनकी जमीन हरियाणा में है)

  • सबसे पहले आपको मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इसके पश्चात आपको किसान अनुभाग के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको पंजीकरण के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
किसान पंजीकरण
  • अब आपके सामने नया पेज खुलकर आएगा।
  • इस पेज पर आपको अपना मोबाइल नंबर तथा कैप्चा कोड दज करना होगा।
  • अब आपको जारी रखें के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज खोलकर आएगा।
  • इस पेज पर आपको पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • आप आपको सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अपलोड करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको सबमिट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप पंजीकरण कर सकेंगे।

पंजीकरण प्रिंट करने की प्रक्रिया (पड़ोसी राज्य के किसान जिनकी जमीन हरियाणा में है)

  • सर्वप्रथम आपको मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको किसान अनुभाग के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको पंजीकरण प्रिंट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
mukhyamantri baagvani bima yojana
  • इसकी पश्चात आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको फसल ऋतु का चयन करना होगा।
  • अब आपको अपना नाम, मोबाइल नंबर तथा बैंक खाता संख्या दर्ज करनी होगी।
  • इसके पश्चात आपको प्रिंट करे के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप पंजीकरण प्रिंट कर सकेंगे।

बैंक विवरण बदलने की प्रक्रिया (पड़ोसी राज्य के किसान जिनकी जमीन हरियाणा में है)

  • सबसे पहले आपको मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इसके पश्चात आपको किसान अनुभाग के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको बैंक विवरण बदले के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको अपनी मोबाइल संख्या तथा कैप्चा कोड दर्ज करना होगा।
  • अब आपको जारी रखे के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आप अपना बैंक विवरण बदल सकते है।

संपर्क विवरण

Leave a Comment